Home > Ajab Gajab > कभी अफगानिस्तान में भी जींस व स्कर्ट पहनती थी लड़कीया, धूमती थी बेखौफ

कभी अफगानिस्तान में भी जींस व स्कर्ट पहनती थी लड़कीया, धूमती थी बेखौफ

अफगानिस्तान के जो आज हालात है वो किसे से छिपे नही है। आज अफगानिस्तान विश्व के नजरियें मे वो देश है जहां पर हर वक्त जंग चलती रहती है। खूनी सडके व बुर्के में महिलाएं, यही छवीं आज के हालात में अफगानिस्तान की विश्व परिदृश्य में है। पर कभी यहां भी खुशहाली थी। यहां भी खौफ का नाम निशान तक नही था। पर दुर्भाग्य से यहां तालिबान की दस्तक के बाद सब बदल गया। 70 के दशक से पहले अफगानिस्तान में भी अमन चैन था। यहां के लोग बेखौफ वेस्टन स्टाइल में अपनी स्टाइलिस जिंदगी जीते थे। लड़किया (Afghanistan girls) जींस व स्कर्ट में अपनी मर्जी से जिंदगी जीती थी। पर यहां तालिबान के शासन में आ जाने के बाद पांबदिंयो से भरी जिदंगी यहां के लोगो की मजबूरी बन गयी। अब वे इस्लामिक कानून के अनुसार ही अपनी जिंदगी जी पाते है।

Afghanistan girls

यह भी देखें : बिना सिर के जिंदा रहा ये मुर्गा, देखिए वीडियो
क्या है तालिबान
तालिबान एक इस्लामिक कट्टपंथी राजनीतिक आंदोलन हैं। तालिबान एक इस्लामिक कानूनो को सख्ती से मानने वाला संगठन है। इसने अफगानिस्तान पर 1990 के दशक में अपना शासन कायम कर लिया था। इस दौरान मुल्ला उमर वहां के धार्मिक नेता थे।  फिर अमेरिका ने अफगानिस्तान में तालिबानी शासन के खिलाफ लम्बी जंग लडी। तभी से अफगानिस्तान में जग के हालात है। और यहां के लोग नकरीय जिंदगी जीने पर मजबूर है। तालिबान ने शिरिया कानून के तहत पुरुषों के लिए ढाढ़ी व महिलाओं के लिए बुर्का पहनना अनिवार्य कर दिया। यहां तक की स्त्री किसी पुरुष् डॉक्टर से भी अपना इलाज नही करा पाती थी। यहां तक की किसी महिला के पैर भी यदि बुर्के से बाहर दिख जाएं तो उसे सरेआम सजा दि जाती थी। स्त्रियों की शिक्षा पर भी सख्त पांबदीया लगा दी गई।

Afghanistan girls

यह भी देखें : अब तक सीधी सादी इमेज वाली इस एक्ट्रेर्स ने लिया बोल्ड अवतार, देखे विडियो
अमेरिका के अफगानिस्तान को तालिबान से आजाद कराने के बाद भी वहां के हालात ज्यादा नही बदले हैं। अभी भी वहां लगातार जंग का ही माहौल रहता है। तालिबान लड़ाके व अमेरिकी सेना में लगातार जंग चलती रहती है।

loading...

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *