Home > Ajab Gajab > ब्लू व्हेल चैलेंज गेम पर सरकार ने लगाया बैन, जानिए क्यों उठाना पड़ा ऐसा कदम

ब्लू व्हेल चैलेंज गेम पर सरकार ने लगाया बैन, जानिए क्यों उठाना पड़ा ऐसा कदम

एक मोबाइल फोन पर चलने वाले गेम ने दुनियाभर के देशों में दहशत फैला दी है। यह कोई भूत या भूचाल लाने वाला गेम नहीं है बल्कि यह लोगों को आत्महत्या करने के लिए मजबूर करता है। भारत में इस गेम पर बैन लगा दिया गया है। सभी सोशल साइट्स को निर्देश दिया गया है कि इस गेम के उनकी साइट्स पर मौजूद लिंक्स को हटाया जाए। Blue Whale Game suicide news जानिए क्यों सरकार को लेना पड़ा ऐसा कड़ा फैसला:

Blue Whale Game suicide news
Blue Whale Game suicide news

 

भारत में इस गेम ने मचाया कोहराम:

ब्लू व्हेल गेम ने देश में कोहराम सा मचा दिया है। वजह है इस गेम के चक्कर में बच्चों का आत्महत्या करना। सबसे पहले मुंबई में इसका पहला मामला सामने आया। एक बच्चे ने इस गेम की आखिरी स्टेज को लाइव किया। आखिरी स्टेज का मतलब है अपनी आत्महत्या को अंजाम देना। ऐसा ही दूसरा मामला पश्चिम बंगाल में दर्ज किया गया। अब  Blue Whale Game suicide news  मामला भी सामने आ गया है। केरल में एक बच्चे ने अपने पिता के मोबाइल पर ये गेमा खेला और अंजाम हुआ उसने आत्महत्या कर ली।

अब व्हाट्सएप से आप कर सकेगें पैसो का लेनदेन , नया फीचर जल्द होगा लांच

ऐसे मामलों से सरकार के कान खड़े हुए। महाराष्ट्र सरकार ने केंद्र से ब्लू व्हेल गेम पर बैन लगाने की गुहार की। अब सरकार ने इस गेम पर बैन लगाते हुए सोशल मीडिया साइट्स से कहा है कि वे अपनी—अपनी साइटों से इस गेम के लिंक हटा दें। गूगल ने भी साफ किया है कि उसके प्ले स्टोर पर ये गेम नहीं है।

यह भी पढ़े : घर बैठे कमाएं पैसा, मोबाइल से करें लाखों की कमाई, ये हैं तरीके

ऐसा क्या है कि लोग आत्महत्या पर उतारु हो जाते हैं:

ब्लू व्हेल गेम में कुल 50 टॉस्क करने का चैलेंज दिया जाता है। हर दिन एक टॉस्क। ये टॉस्क गेम का ए​डमिन देता है। यानि की यूजर को गेम के बताए अनुसार कोई साहसिक कार्य करना होता है। 50 टॉस्क में से एक टॉस्क अपने शरीर पर व्हेल का चित्र उकेरना भी होता है। इसके अलावा पुल पर चढ़ना, सुबह 4.30 बजे जागना, डरावने वीडियो देखना आदि। गेम जैसे—जैसे आगे बढ़ता है खतरा उतना ही ज्यादा हो जाता है। आखिरी टॉस्क यूजर को आत्महत्या करने पर मजबूर करता है। ऐसा नहीं करने पर उसे आॅनलाइन ब्लैकमेल किया जाता है।

यह भी देखें : गरीब को अचानक मिले 99 अरब, फिर भी परेशान, जाने वजह

किसने बनाया ये खूनी खेल:

ब्लू व्हेल चैलेंज या गेम 2013 में रूस में शुरू हुआ। माना जाता है कि विकोनटाक्ते सोशल नेटवर्क के डेथ ग्रुप ने इसे शुरू किया। मानवविज्ञान के एक छात्र फिलिप्स बुडेकिन का दावा है कि ये गेम उसेन बनाया है। बताया जाता है कि उसे यूनिवर्सिटी से निकाल दिया गया था। फिलिप्स का कहना है कि वह ऐसे लोगों को आत्महत्या के लिए उकसाता है जिनका इस समाज में कोई मूल्य नहीं हैै। वर्ष 2016 में फिलिप्स को गिरफ्तार कर लिया गया। इसने कबूल किया कि उसे 16 लड़कियों को आत्महत्या के लिए उकसाया।

loading...

About Dimpy Sharma

डिम्पी शर्मा को शुरू से ही मीडिया इंडस्ट्री में जाने का चाव था, हालांकि केवल शौकिया तौर पर। डिम्पी डॉक्टर बनना चाहती थी,लेकिन ऐसा वह कर नहीं पाई और उनका रूझान फिर से मीडिया की ओर हो गया। डिम्पी को लेखन के अलावा, मूवीज, क्रिकेट, डेकोरेशन, बुक रि​डिंग और शेरो—ओ—शायरी का शौक है। खाली समय में वह फेसबुक पर चैटिंग और व्हाट्सएप पर वीडियो देखना पसंद करती है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *