Home > App Ki News > सीबीएसई लाएगी नया एग्जाम फॉर्मेट, होंगे दो सेमेस्टर, जानिए पूरी डिटेल्स!

सीबीएसई लाएगी नया एग्जाम फॉर्मेट, होंगे दो सेमेस्टर, जानिए पूरी डिटेल्स!

नई दिल्ली। यदि आपकी फैमिली में कोई भी बच्चा सीबीईसी बोर्ड में छटवीं से नौवीं क्लास तक का स्टूडेंट है तो सचेत हो जाइए। खबर है कि सीबीएसई बोर्ड इन क्लासेज के लिए नया एग्जाम फॉर्मेट लागू करने जा रही है। जानकारी के अनुसार, बोर्ड ने CBSE Board ने छठवीं से नौवीं कक्षाओं के लिए निरंतर और व्यापक मूल्यांकन सीसीई प्रणाली को खत्म कर दिया है। यह प्रणाली साल 2009 से चली आ रही थी।

CBSE Board
CBSE Board

अब बोर्ड यूनिफॉर्म असेसमेंट स्कीम लागू करने जा रहा है। यानी अब सभी स्कूलों में एक समान परीक्षा और रिपोर्ट कार्ड सिस्टम होगा। आगामी सत्र 2017-18 से इस प्रणाली को बदल दिया गया है। अब सीबीएसई से जुड़े स्कूलों में छठवी से नौवीं क्लासेज के लिए साल में दो बार एग्जाम होंगे जिनके नाम होंगे टर्म-1 एवं टर्म-2। साथ ही सभी क्लासेज के स्टूडेंट्स का मूल्यांकन एक समान मूल्यांकन प्रक्रिया के तहत होगा। स्कूलों में शिक्षण एवं उनके प्रदर्शन का मूल्यांकन करने के लिए अकेडमिक ईयर 2017-18 से मूल्यांकन, परीक्षा और रिपोर्ट कार्ड की एक समान प्रणाली होगी।

यह भी पढ़ें: बारहवीं बोर्ड के परीक्षा परिणाम 2017

इसके पीछे CBSE Board का मकसद 10वीं परीक्षा के लिए छात्रों को पहले से ही तैयार करना एवं शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार लाना है। नई प्रणाली में रिपोर्ट कार्ड पर बोर्ड का लोगो भी होगा। खास बात यह है कि एक जैसा एग्जामिनेशन सिस्टम एवं रिपोर्ट कार्ड होने से एक-दूसरे राज्य में स्टूडेंट्स का एडमिशन आसानी से हो जाएगा। साथ ही रिपोर्ट कार्ड भी ऑनलाइन रहेगा।

यह भी पढ़ें: दसवीं बोर्ड के परीक्षा परिणाम 2017

इस नई स्कीम के तहत दो सेमेस्टर होंगे। अर्धवार्षिक और वार्षिक। हर सेमेस्टर में दो 10 नंबर के पीरियोडिक टेस्ट होंगे। लिखित परीक्षा को 90 फीसदी वेटेज दिया जाएगा। इनमें से 80फीसदी मार्क्स हॉफ ईयरली एव ईयरली एग्जाम के होंगे जबकि 20 में 10 मार्क्स प्रत्येक सेमेस्टर के पीरियोडिक अससेमेंट के होंगे। साथ ही 10 मार्क्स नोट बुक जमा कराने, पीरियोडिक असेसमेंट में सब्जेक्ट एनरिचमेंट के होंगे। यानी प्रत्येक सेमेस्टर 100 मार्क्स का सेमेस्टर होगा।

यह भी पढ़ें: आधार कार्ड अब यहा भी हुआ ​अनिवार्य, जल्दी बनवा ले नही तो पडेगा पछताना

loading...

About Dimpy Sharma

डिम्पी शर्मा को शुरू से ही मीडिया इंडस्ट्री में जाने का चाव था, हालांकि केवल शौकिया तौर पर। डिम्पी डॉक्टर बनना चाहती थी,लेकिन ऐसा वह कर नहीं पाई और उनका रूझान फिर से मीडिया की ओर हो गया। डिम्पी को लेखन के अलावा, मूवीज, क्रिकेट, डेकोरेशन, बुक रि​डिंग और शेरो—ओ—शायरी का शौक है। खाली समय में वह फेसबुक पर चैटिंग और व्हाट्सएप पर वीडियो देखना पसंद करती है।

Check Also

12th result 2017 roll number wise

रोल नंबर से देखें बाहरवीं आर्ट्स रिजल्ट, रोल नंबर याद नहीं तो नाम से यहां देखें

जयपुर। अगर आपने राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड अजमेर से बाहरवीं की परीक्षा दी है और …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *