Home > Business > अब इन चीजों पर नहीं देना होगा जीएसटी बिल, इन राज्यों में नहीं लगता जीएसटी टैक्स

अब इन चीजों पर नहीं देना होगा जीएसटी बिल, इन राज्यों में नहीं लगता जीएसटी टैक्स

जीएसटी लागू होने के बाद से ही इसमें सुधार का दौर भी जारी है। हालाकि गूड्स एंड सर्विस टैक्स को लागू हुए अभी कुछ ही समय हुआ है। और अभी तक भी आम आदमी इसे पूरी तरह से नही समझ पाया है। सरकार ने जीएटी को आसान तरीके से समझाने के लिए कई योजनाएं भी लागू की है। और लगातार जीएसटी की मुश्किलो को आसान बनाने का प्रयास भी कर रही है। इसी के तहत अब सरकार ने एलपीजी, केरोसीन मुद्रा सहित कई ऐसी वस्तुएं है जिन्हे परिवहन विभाग से इलेक्ट्राॅनिक परमिट (GST electronic permit) लेने से छूट दे दी है। आपको बता दे कि सरकार ने जीएसटी के तहत यह प्रावधान रखा था कि 50,000 से अधिक मूल्य के माल को एक राज्य से दूसरे राज्य में ले जाने पर इलेक्ट्राॅनिक परमिट या बिल की जरुरत होगी।

GST electronic permit

 

यह भी पढ़े : सोनम कपूर को सैक्स से नही परहेज, पर को—स्टार के साथ नही

लेकिन अब सरकार ने आम जरुरत की 153 वस्तुओ को ई वे बिल (GST electronic permit) लेने की आवश्यक्ता से मुक्त कर दिया है। इन वस्तुओ में आम जरुरत की कई वस्तुएं है जैसे – केरोसिन, आभुषण,, शहद, अनाज, फल, शब्जिया, दूध, बीज, आटा, मछली आदि। अब इन्हे एक राज्य से दूसरे राज्य में ले जाने के लिए इलेक्ट्राॅनिक परमिट की आवश्यक्ता नही होगी। इसके अलावा सरकार ने एक और राहत देते हुए बिना मोटर वाले वाहन से भेजे जाने वाले माल पर को भी इलेक्ट्राॅनिक परमिट की आवश्यक्ता से मुक्त किया है। इसके अलावा देश के अंदर ही बंदरगाह पर सीमा शुल्क से मंजूरी के लिए माल को भेजे जाने पर भी इलेक्ट्राॅनिक परमिट (GST electronic permit) लेने की आवश्यक्ता नही होगी।

यह भी पढ़े : इतना कमाते हैं भारतीय क्रिकेटर, बॉलीवुड सितारे और बिजनेसमैन भी हैं बहुत पीछे

जीएसटी को लेकर एक बडा फैसला लेते हुए सरकार ने पहाडी राज्यो को भी जीएसटी से छूट दिए जाने का ऐलान किया है। खबरो के मुताबिक जीएसटी लागू होने के बाद के 10 साल तक यहा टैक्स से छूट मिलती रहेगी। इन राज्यो में जम्मू कश्मीर, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, सिक्किम सहित पूर्वोत्तर राज्यो को भी शामिल किया गया है। इसके तहत अब तक जिन उद्योगो से जीएसटी लागू होने के बाद सीजीएसटी या आईजीएसटी लिया जा रहा था। उन्हे इसका रिफंड किया जायेगा।

https://duta.in/mobile-pe-news-iframe.php
loading...

About Komal Sharma

कोमल शर्मा अपने नाम की ही तरह स्वभाव से भी सरल हैं। उनकी टीम में उन्हें सॉफ्ट के नाम से जाना जाता है। कोमल ने पत्रकारिता का मास्टर कोर्स किया है। उन्होंने कई प्रतिष्ठित कंपनियों में अपनी सेवाएं दी हैं। अब इंडिया की न्यूज में आकर उन्हें संतोष महसूस होता है। कोमल को एक्शन—कॉमेडी और रोमांटिक मूवीज पसंद हैं। हैडफोन लगाकर गाना सुनना उनकी एक बड़ी कमजोरी है।

Check Also

GST on Gold

क्या पुराने सोने, ज्वैलरी एवं वाहनों को बेचने पर नहीं लगेगा जीएसटी, यहां जानें

नई दिल्ली। अगर आप जीएसटी के चलते पुराने व्हीकल्स एवं गहने, सोना बेचने में असमंजस …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *