Home > App Ki News > 27 चीजों पर जीएसटी को 5 प्रतिशत तक घटाया, जानिए आपको होगा कितना फायदा

27 चीजों पर जीएसटी को 5 प्रतिशत तक घटाया, जानिए आपको होगा कितना फायदा

नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने कारोबारियों की परेशानियों और उपभोक्ताओं पर कर का बोझ कम करने के लिए जीएसटी काउंसिल की 22वीं मीटिंग में कई राहत भरी घोषणाएं की हैं। शुक्रवार देर रात तक चली बैठक के बाद 27 चीजों पर से जीएसटी की मौजूदा दर को घटाया गया है। कई चीजों पर जीएसटी की रेट 5 प्रतिशत तक कर दी गई है। आइए जानते हैं कि किन चीजों पर सरकार ने जीएसटी कर में कमी (GST reduced) की है:

GST reduced
GST reduced

 

GST reduced or slashed on the following items:

1. खाखरा और प्लेन चपाती/रोटी पर वर्तमान जीएसटी दर 12% को घटाकर 5% कर दिया गया है।
2. बिना ब्रांड नेम वाली नमकीन और आयुर्वेदिक/यूनानी/होम्योपैथी दवाओं पर जीएसटी की दर को 12% से घटाकर 5% कर दिया गया है।
3. पोस्टर कलर पर मौजूदा जीएसटी दर 28% को घटाकर 18% कर दिया गया है।
4. हाथ से बने धागों पर जिनमें सिंथेटिक, नायलोन, पोलिस्टर शामिल हैं उनकी जीएसटी दरों को 18% से 12% कर दिया गया है।
5. रियल जरी पर भी टैक्स को 12% से घटाकर 5 प्रतिशत कर दिया गया है।
6. ई—वेस्ट पर मौजूदा 18/28% जीएसटी को घटाकर 5 प्रतिशत कर दिया गया है।
7. मैंगो स्लाइस्ड ड्राइड पर वर्तमान जीएसटी 12% को घटाकर 5 प्रतिशत कर दिया गया है।

यह भी पढ़े: शराब के लिए आधार कार्ड की खबर पुरानी नहीं हुई अब इसके लिए भी जरूरी हो गया आधार

8. डिब्बाबंद खाद सामग्री जो कि सरकार से मान्यता प्राप्त हैं और गरीबों में बांटने के लिए उपलब्ध करवाई जानी हैं उन पर 18% जीएसटी को 5% कर दिया गया है।

9. प्लास्टिक वेस्ट, रबर वेस्ट और कबाड़ पर जीएसटी को 18 से 5% कर दिया गया है।
10. कागज के अपशिष्ट और कबाड़ पर जीएसटी को 12 से घटाकर 5% कर दिया गया है।

कारोबारियों के लिए विशेष राहत:

— अब 2 लाख रुपए तक की ज्वैलरी खरीद पर पैन नंबर देना जरूरी नहीं होगा। नोटबंदी के दौरान इसे 50 हजार रुपए कर दिया गया था।
— ज्वैलर्स को अब मनी लांड्रिंग एक्ट पीएमएलए के दायर से बाहर कर दिया गया है।
— अब रिटर्न फाइल करने का समय 3 महीने निर्धारित किया गया है। 1.5 करोड़ रुपये टर्नओवर पर हर 3 महीने में रिटर्न भरनी होगी। कंपोजिशन स्कीम की सीमा 75 लाख से बढ़ाकर 1 करोड़ रुपये कर दी गई है।

जुड़वां 2 की कमाई ने बड़ी—बड़ी फिल्मोंं को छोड़ा पीछे, एक सप्ताह में कमा लिए इतने करोड़

— निर्यातकों को 6 महीने के लिए राहत, 6 महीने बाद हर एक निर्यातक को ई-वॉलेट मिलेगा। ई-वॉलेट सिस्टम 1 अप्रैल 2018 से पूरी तरह लागू हो जाएगा। इस व्यवस्था को एक कंपनी विकसित करेगी।
— ऐसे रेस्त्रां जिनका टर्नओवर 1 करोड़ रुपए से ज्यादा है उनके टैक्स सिस्टम में बदलाव किया गया है। अब मालिकों को 18 की जगह 5 प्रतिशत टैक्स देना होगा।
— अब कई फार्म की जगह एक ही फॉर्म से जीएसटी फाइल की जा सकेगी। साथ ही रिवर्स चार्ज मैकेनिज्म को मार्च 2018 तक स्थगित कर दिया गया है।

Source: PIB

loading...

About Dimpy Sharma

डिम्पी शर्मा को शुरू से ही मीडिया इंडस्ट्री में जाने का चाव था, हालांकि केवल शौकिया तौर पर। डिम्पी डॉक्टर बनना चाहती थी,लेकिन ऐसा वह कर नहीं पाई और उनका रूझान फिर से मीडिया की ओर हो गया। डिम्पी को लेखन के अलावा, मूवीज, क्रिकेट, डेकोरेशन, बुक रि​डिंग और शेरो—ओ—शायरी का शौक है। खाली समय में वह फेसबुक पर चैटिंग और व्हाट्सएप पर वीडियो देखना पसंद करती है।

Check Also

GST on Prasad

क्या प्रसाद, भंडारे एवं लंगर पर लगेगा जीएसटी, पढि़ए पूरी खबर

नई दिल्ली। जीएसटी 1 जुलाई से देशभर में लागू हो गया। ऐसे में बीते दिनों …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *