Home > Business > जीएसटी से सरकारी खजाना मालामाल, जानिएं कितनी हुई इस टैक्स से सरकारी कमाई

जीएसटी से सरकारी खजाना मालामाल, जानिएं कितनी हुई इस टैक्स से सरकारी कमाई

जीएसटी यानि की गूड्स एंड सर्विस टैक्स ने सरकारी खजाने को मालामाल कर दिया है। इसे लागू होने के बाद पहले ही महीने में जीएसटी से सरकार को जबरदस्त टैक्स रकम (GST tax income) प्राप्त हुई है। पहले महीने के टैक्स भुगतान से सरकार को करीब 92,283 करोड रुपये प्राप्त हुए है। इतनी अधिक मात्रा में टैक्स के रुपये जमा होने की उम्मीद नही की जा रही थी। सरकार ने कुल 91000 करोड रुपये के टैक्स का लक्ष्य रखा था। इस लक्ष्य को असानी से प्राप्त कर लिया गया है।  यह तो तब है जब अभी तक जीएसटी के लिए रजिस्टर्ड कुल टैक्स पेयर्स में से केवल 64 प्रतिशत लोगो ने ही टैक्स भरा है। सभी के टैक्स भरने पर यह रकम कही अधिक होने की उम्मीद की जा रही है। आपको बता दे कि जीएसटी के लिए अब तक कुल 59.57 लाख लोगो ने रजिस्टर्ड किया है।

GST tax income

यह भी देखें : सुनील शेट्टी की बेटी ​अथिया शेट्टी ने पहली बार शेयर की अपनी बिकनी फोटोज, यहां देखें

टैक्स की इस रकम में से 14,894 करोड रुपये केंद्र्रीय जीएसटी (GST tax income) के रुप में प्राप्त हुए है। इसके अलावा राज्यो से प्राप्त जीएसटी की रकम 22,722 करोड है। इसके अतिरिक्त 47,469 करोड रुपये सम्मिलित जीएसटी के द्वारा प्राप्त किए गए है। इस तरह जीएसटी से टैक्स के रुप में सरकारी खजाने में भारी मात्रा में टैक्स की रकम आयी है। गौरतलब है कि जीएसटी लागू होने के बाद बडी मात्रा मे नये टैक्स पेयर्स आयकर विभाग से जुडे है। जीएसटी लागू होेने के बाद तंबाकू और कार जैसी विलासिता की वस्तुओ से ही अब तक 7,198 करोड रुपये का कर प्राप्त हुआ है। इसी तरह अन्य वस्तुओ  से भी बडी मात्रा में टैक्स प्राप्त हुआ है। आपको बता दे कि जीएसटी के लिए कुल 59.67 लाख करदाताओं ने रजिस्टर्ड किया है। इनमें से अभी तक केवल 38 लाख लोगो ने ही अपनी रिर्टन दाखिल की है। ऐसे में उम्मीद की जा रही है। कि बाकि टैक्स पेयर्स द्वारा रिर्टन दाखिल करने पर यह राशि और भी बढ सकती है।

यह भी पढ़े : अब पूर्व नियोक्ता के हस्ताक्षर के बगैर भी निकाल सकेंगे पीएफ का पैसा

गौरतलब है कि जीएसटी के तहत सरकार ने एक देश एक कर का नारा दिया था। इस कर के द्वारा सभी सेवाओं और वस्तुओ को चार टैक्स स्लैब में बाटा गया था। जिन पर 5 प्रतिशत से लेकर 28 प्रतिशत तक टैक्स (GST tax income) लगाया गया था। सरकार ने रोजमर्रा की जरुरतो की कई वस्तुओ को इस टैक्स प्रणाली से दूर रखकर 0 प्रतिशत टैक्स उन पर लगाया था। अब जबकि जीएसटी पूरी तरह से लागू हो गया है और लोग लगातार इस नयी कर प्रणाली से जुड भी रहे है। ऐसे में यह उम्मीद की जा रही है कि अभी और नये करदाता इस प्रणाली से जुड सकते है।

loading...

About Komal Sharma

कोमल शर्मा अपने नाम की ही तरह स्वभाव से भी सरल हैं। उनकी टीम में उन्हें सॉफ्ट के नाम से जाना जाता है। कोमल ने पत्रकारिता का मास्टर कोर्स किया है। उन्होंने कई प्रतिष्ठित कंपनियों में अपनी सेवाएं दी हैं। अब इंडिया की न्यूज में आकर उन्हें संतोष महसूस होता है। कोमल को एक्शन—कॉमेडी और रोमांटिक मूवीज पसंद हैं। हैडफोन लगाकर गाना सुनना उनकी एक बड़ी कमजोरी है।

Check Also

GST on Gold

क्या पुराने सोने, ज्वैलरी एवं वाहनों को बेचने पर नहीं लगेगा जीएसटी, यहां जानें

नई दिल्ली। अगर आप जीएसटी के चलते पुराने व्हीकल्स एवं गहने, सोना बेचने में असमंजस …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *