X
    Categories: App Ki News

अब कंपनी पीएफ पर चलेगी आपके अनुसार, जाने क्या होगें फायदे

केन्द्र सरकार ने एक अहम फैसला लेते हुए पीएफ के नियमो में बदलाव किया है, इस बदलाव के तहत अब प्राइवेट कर्मचारी के लिए पीएफ कटवाना आवश्यक (pf cutting rules) नही होगा। नये नियम के तहत यह कर्मचारी तय करेगा कि उसे अपने वेतन से पीएफ कटवाना है या नही। इस फैसले से कम सैलरी वाले प्राइवेेट कर्मचारियों को फायदा होगा जिन्हे अपना पीएफ नही कटवाना होता था, लेकिन नियमो के तहत कटवाना पडता था। प्रधानमंत्री मोदी की अध्यक्षता मे हुई बैठक में यह निर्णय लिया गया।

यह भी पढ़े : जानें कैसे घर बैठे पैन कार्ड बनवाएं आॅनलाइन, ये है तरीका

हालाकि अभी यह  निर्णय केवल एक्सपोर्ट सेक्टर में काम करने वाले कर्मचारियो पर ही लागू होगा, अन्य क्षेत्रो के कर्मचारियों के बारे में सरकार ने अभी कोई निर्णय नही लिया है। खबरो के मुताबिक सरकार ने यह फैसला एक्सपोर्ट के क्षेत्र में रोजगार बढ़ाने व इसे मजबूती देने के लिए किया है। नये नियम के तहत अब 15000 से कम सैलरी पाने वाले कर्मचारी को यह हक होगा कि वह अपने वेतन से पीएफ कटवाये (pf cutting rules) या न कटवाये। कोई भी कंपनी कर्मचारी के वेतन से पीएफ उसकी सहमति के बिना नही काट सकेगी, 15000 से कम वेतन पाने वाल कर्मचारी के वेतन से पीएफ की रकम उसकी सहमति के बाद ही काटी जा सकेगी। खबरो के मुताबिक अब सरकार पीएफ में कटने वाली राशि की दर भी कम कर सकती है, अभी तक कर्मचारी के वेतन से 12 प्रतिशत राशि पीएफ के तौर पर काटी (pf cutting rules) जाती थी, अब सरकार यह भी नियम ला सकती है जिसके तहत कर्मचारी चाहे तो कम राशि पीएफ के तौर पर कटवा सकता है।

यह भी देखें : टीवी वैम्प का नया हॉट अवतार, अब तक नही देखा होगा आपने

हालाकि इस नियम से कर्मचारियों को एक तरफ फायदा है तो दूसरी तरफ कर्मचारी को नुकसान भी उठाना पड सकता है, क्योकि पीएफ के नियमो के तहत पीएफ कटवाने वाले कर्मचारी को रिटायरमेंट के बाद पेंशन का भी लाभ मिलता है। इस नियम के तहत यदि कोई कर्मचारी अपना पीएफ नही कटवाता है तो फिर वह पेंशन का लाभ भी नही ले पायेगा।

Related Post
Leave a Comment