Home > Viral > Photos > सपना चौधरी से पुलिस ने आईसीयू में की 50 मिनट पूछताछ, जानिए क्या—क्या पूछा

सपना चौधरी से पुलिस ने आईसीयू में की 50 मिनट पूछताछ, जानिए क्या—क्या पूछा

गुड़गांव। सपना चौधरी की मौत को गले लगाने की कोशिश नाकाम रहने के बाद उन्हें गुड़गांव के एक अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। वहां सपना को आईसीयू में रखा गया है। इलाज कर रहे चिकित्सकों का कहना है कि सपना को अभी 2—3 दिन रहना होगा।

Sapna Choudhary suicide case

इसी बीच गुड़गांव पुलिस ने सपना से आईसीयू में पूछताछ की। एबीपी न्यूज के मुताबिक सपना से पुलिस ने करीब 50 मिनट तक पूछताछ की और उसके बयान दर्ज किए। इस दौरान पुलिस ने सपना की आत्महत्या से जुड़े सवाल भी पूछे गए। सपना ने सतपाल कंवर नाम के व्यक्ति पर गंभीर आरोप लगाए हैं। बताया जा रहा है उस पर भी महिला उत्पीड़न और आपराधिक धमकी का केस दर्ज किया गया है। उधर सतपाल ने भी सपना पर जान से मारने का आरोप लगाया है। लेकिन पुलिस ने दोनों में से किसी को भी हिरासत में नहीं लिया है। फिलहाल सपना और सतपाल एक दूसरे पर गंभीर आरोप लगा रहे हैं। सपना को अस्पताल से छुट्टी मिलने के बाद ही पुलिस कोई ठोस कार्यवाही कर सकती है।

गौरतलब है कि रविवार 4 सितम्बर 2016 को सपना चौधरी (Sapna Choudhary) ने मौत को गले लगाने की कोशिश की। हरियाणा की डांसर और गायक सपना चौधरी ने जहर खाकर खुद की मौत को बुलावा दिया। कारण है उसके खिलाफ सोशल मीडिया पर की जा रही गाली—गलौच और गंदे आरोप।

Sapna choudhary photo
Sapna Choudhary Case

सपना चौधरी ने अपनी डेथ को चुनने से पहले सुसाइड नोट लिखा। कई मीडिया रिपोर्टस में इस सुसाइड नोट के हवाले से खबरें पोस्ट की गई हैं। इस सुसाइड नोट में उसने अपनी मौत के लिए सोशल मीडिया पर उसके खिलाफ चल रहे माहौल और उस पर दलितों का अपमान करने का आरोप लगाने वाले शख्स को जिम्मेदार ठहराया। इस नोट में सपना ने एक ऐसे फेसबुक पेज का भी जिक्र किया है जिसमें आरोप था कि वह दिन में नाच कर लोगों का दिल बहलाती है और रात में अधिकारियों और नेताओं का बिस्तर गरम करती है। इस बात से सपना इतना आहत हुई कि उसने यह तक लिख डाला कि पैसा ही कमाना होता तो वह गलत काम करके आसानी से कमा लेती। उसे लोगों के सामने नाचने की जरूरत ही नहीं पड़ती।

सपना चौधरी के सुसाइड नोट में लिखा गया है कि जिस गाने में दलितों के अपमान की बात कही गई है वह उसका लिखा हुआ नहीं है। इस रागिनी को वर्षों से गाया जाता रहा है। वह ऐसा करने वाली पहली गायिका नहीं है। उस पर आरोप लगने से पहले और बहुत लोगों ने इसे गाया है उन पर भी उंगली उठाई जानी चाहिए। हालांकि सपना ने फेसबुक पर और खुलेआम भी इस पर माफी मांग ली थी। इसके बावजूद उन पर दलितों का अपमान करने का केस दर्ज करवा दिया गया।

बताया गया है कि सपना ने 17 फरवरी को चक्कुरपुर गांव, गुरुग्राम में रागिनी गाई थी जिसको लेकर खासा विवाद हुआ था। रागिनी में इस्तेमाल कुछ शब्दों को लेकर दलित नेता सतपाल तंवर  ने सपना और मोर म्यूजिक कंपनी के मालिक व अन्य के खिलाफ एसी/एसटी एक्ट का मुकदमा दर्ज कराया था। सपना ने अपनी फेसबुक वॉल पर लिखा था कि मैं आप सभी से निवेदन करती हूं कि मेरे द्वारा गाई गई रागिनी ‘जात-पात का सांग बिगड़ गया’ लोगों की मांग पर गाई थी।

मीडिया में सपना के सुसाइड नोट की कॉपी वायरल हो गई है। आप भी इन तस्वीरों में देखें सपना चौधरी ने सुसाइड नोट में क्या लिखा: –

sapna choudhary suicide note

Sapna choudhary suicide note copy

Sapna suicide note

Sapna choudhary suicide case

Sapna choudhary suicide letter

Sapna choudhary suicide note viral6

Image source : Patrika.com

सपना चौधरी को आत्महत्या करने के प्रयास के तुरंत साथ अस्पताल में भर्ती करवा दिया गया था।

Sapna Choudhary Videos

ये हैं कुछ वीडियो जिनके कारण सपना उत्तर भारत में काफी लोकप्रिय हो गई:—

 

loading...

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *