Home > Business > एसबीआई के किया नियमो में बदलाव, अब इतना लगेगा चार्ज आपके लेनदेन और एफडी पर

एसबीआई के किया नियमो में बदलाव, अब इतना लगेगा चार्ज आपके लेनदेन और एफडी पर

इस नये वित्त वर्ष में हमारे बैकिंग क्षेत्र में भी काफी बदलाव देखने को मिला है। नये वित्तीय वर्ष में देश के छ प्रमुख राष्ट्रीय बैंको को भारतीय स्टेट बैंक में विलय कर दिया गया। जिसके बाद भारतीय स्टेट बैंक ने अपने शुल्को में कई तरह के बदलाव किए। भारतीय स्टेट बैंक ने एफडी कराने पर लगने वाले शुल्क में भी परिवर्तन (sbi banking charge new rules) किया है। यह शुल्क एफडी को समय से पहले तुडवाने पर लागू होगा। स्टेट बैंक ने पहले यह शुल्क 1 प्रतिशत रखा था। लेकिन अब एसबीआई ने अपने ग्राहको को राहत देते हुए इस शुल्क में कुछ कमी की है।

sbi banking charge new rules

यह भी पढ़े : नीली आंखों वाली गोरी लड़कियों को पत्नी बनाने के लिए रूस जा रहे लोग, जानिए क्यों

एसबीआई ने एक करोड तक की एफडी पर दो कैटेगरी में यह शुल्क का नियम (sbi banking charge new rules) बनाया है। समय से पहले एफडी तुडवाने पर पहले एसबीआई ने 1 प्रतिशत पेनल्टी रखी थी। लेकिन अब यह पेनल्टी दो अलग-अगल कैटेगरी में ली जाएगी। नये नियमो के अनुसार यदि कोई व्यक्ति 5 लाख तक की एफडी करवाता है। और उसे वह मेच्योर होने के समय से पहले ही बे्रक करता है तो उसे 0.50 प्रतिशत पेनल्टी शुल्क देना होगा। इसी तरह 5 लाख से ज्यादा और 1 करोड से कम एफडी को समय से पहले ब्रेक करने पर 1 प्रतिशत कर देना होगा। यह नये निमय 1 अप्रैल 2017 से लागू होगें।

भारतीय स्टेट बैंक ने कैश लेन देन पर ट्रांजेक्शन फीस की मौजूदा व्यवस्था में बदलाव किया है। अब एसबीआई में सेविंग अकाउंट धारक ब्रांच से एक महीने में सिर्फ 3 बार ही कैश ट्रांजैक्‍शन फ्री कर सकते है। इससे अधिक नकद लेन-देन करने पर ग्राहक को प्रति ट्रांजैक्‍शन 50 रूपए एवं सर्विस चार्ज देना होगा। आपको बतादें एसबीआई ने इस नए नियम को 1 अप्रैल 2017 से लागू करने का फैसला किया है। यानी 1 अप्रैल के बाद एसबीआई में सेविंग अकाउंट वाले कस्टमर्स को कम से कम ट्रांजैक्‍शन करने होंगे।भारतीय स्टेट बैंक के ग्राहको को अब अपने खाते में बैंक द्वारा निर्धारित न्यूनतम राशि रखनी होगी। अन्यथा इस पर शुल्क (sbi banking charge new rules) लगाया जाएगा। यह राशि मासिक आधार पर रखनी होगी। महानगरो के बैंक खाताधारको को अपने खाते में न्यूनतम 5000 रुपये रखने होगे। शहरी क्षेत्रो के बैंको में न्यूनतम राशि 3000 रुपयें और अर्द्ध शहरी क्षेत्रो में यह राशि 2000 रुपये होगी। ग्रामीण क्षेत्रो के खाता धारको को अपने खाते में 1000 का न्यूतम बैलेंस रखना होगा। ऐसा नही करने पर शहरी क्षेत्रो में 100 रुपयें का शुल्क तथा ग्रामीण क्षेत्रो में 20 रुपये शुल्क देना होगा।

यह भी पढ़े : धन व सफलता पानी है तो आजमाएं ये उपाय

इसके अलावा स्टेट बैंक ने अन्य कई शुल्को में भी बद्धोतरी की है-
स्टेट बैंक ने लाॅकर किराया भी बढ़ा (sbi banking charge new rules) दिया है। तथा लाॅकर उपयोग की सीमा भी कम कर दी है। लाॅकर का किराया अब 1500 रुपये होगा। तथा 12 बार से अधिक उपयोग करने पर 100 रुपये अतिरिक्त चार्ज भी देना होगा। चेक बुक लेने वाले ग्राहको को एक वित्त वर्ष में 50 चेक मुफ्त दिए जाएगे। उसके बाद हर चेक के लिए 3 रुपयें शुल्क देना होगा। साथ ही 25 चेक वाली चेक बुक के लिए 75 रुपये चार्ज भी देना होगा।

https://duta.in/mobile-pe-news-iframe.php
loading...

About Komal Sharma

कोमल शर्मा अपने नाम की ही तरह स्वभाव से भी सरल हैं। उनकी टीम में उन्हें सॉफ्ट के नाम से जाना जाता है। कोमल ने पत्रकारिता का मास्टर कोर्स किया है। उन्होंने कई प्रतिष्ठित कंपनियों में अपनी सेवाएं दी हैं। अब इंडिया की न्यूज में आकर उन्हें संतोष महसूस होता है। कोमल को एक्शन—कॉमेडी और रोमांटिक मूवीज पसंद हैं। हैडफोन लगाकर गाना सुनना उनकी एक बड़ी कमजोरी है।

Check Also

SBI bharti

पेंशन खाताधारक सावधान, यह नही किया तो रुक सकती है आपकी पेंशन

यदि स्टेट बैंक आॅफ इंडिया में आपका पेंशन खाता है तो सावधान (SBI Pension account) …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *