Home > App Ki News > यूपी बोर्ड परीक्षाओं में दिखा सख्ती का असर,क्या रिजल्ट पर भी पडेगा असर

यूपी बोर्ड परीक्षाओं में दिखा सख्ती का असर,क्या रिजल्ट पर भी पडेगा असर

यूपी बोर्ड की परीक्षाएं शुरु हुए अभी कुछ ही दिन हुए है। इस बार सरकार ने नकल विहिन परीक्षा कराने के लिए सख्ती बरती है। इस सख्ती का असर भी परीक्षा शुरु होने के कुछ दिनो बाद ही दिखना शुरु हो गया था। यूपी बोर्ड की परीक्षाओं में बडी संख्या में परीक्षार्थी परीक्षा देना छोड चुके है। खबरो के अनुसार बोर्ड की परीक्षा शुरु होने के बाद से ही सरकार की सख्ती के चलते लाखो की संख्या में विद्यार्थी परीक्षा बीच में ही छोड चुके है। पिछले साल भी नकल विरोधी अभियानो के चलते 5 लाख से ज्यादा परीक्षार्थी परीक्षा बीच में ही छोड कर चले गये थे। लेकिन इस बार तो यह आकडा 10 लाख को भी पार कर गया है।

up board result

यह भी देखें : हाई रेटेड गबरू… में दिखी मॉडल को कर रहे सर्च, जानिए कौन है ये हॉट मॉडल, Watch Video-Pics

अब माना जा रहा है कि यूपी बोर्ड की दसवीं व बारहवी कक्षा के रिजल्ट पर भी सरकार की इस सख्ती का असर पडने वाला है। माना जा रहा है कि यूपी सरकार नकल विहिन परीक्षा कराने के बाद रिजल्ट में भी सख्ती बरत सकता है। ताकि कोई भी छात्र किसी अनुचित तरीके से पास ना हो सके। बडी संख्या में विद्यार्थीयो के परीक्षा छोडने से यह तो तय है कि यूपी बोर्ड के रिजल्ट में पिछले साल की अपेक्षा पास होने वाले विद्यार्थीयो का आकंडा काफी कम रहने वाला है। साथ ही यह भी माना जा रहा है कि जो विद्यार्थी परीक्षा दे रहे है, उनकी उत्तर पुस्तिका की भी गहन जांच की जा सकती है। पिछले साल भी यूपी बोर्ड ने परीक्षाओं की उत्तर पुस्तिका जांचने के काम में काफी सावधानी बरती थी। और इस साल भी यह सख्ती जारी रहने वाली है।

यह भी पढ़े : अनुपम खेर की यह मुवी आई पोर्न साइट पर, फिल्म के कलाकार ने की ना हटाने की मांग

आपको बता दे कि इस बार यूपी बोर्ड की परीक्षा में कुल 66,37,018 परीक्षार्थी बोर्ड की परीक्षा दे रहे है। इनमे से हाईस्कूल की परीक्षा की बात करे तो इस परीक्षा में कुल 36,55,691 परीक्षार्थी परीक्षा दे रहे है। वही यूपी बोर्ड की इंटरमिडिएट परीक्षा में इस बार 29,81,327 परीक्षार्थी परीक्षा दे रहे है। इस परीक्षा को सुचारु और नकल विहीन बनाने के लिए प्रदेश में करीब 8549 परीक्षा सेंटर बनाए गये है। यूपी सरकार ने परीक्षा के दौरान गडबडी को रोकने के लिए 1521 परीक्षा केन्द्रो को संवेदनशील घोषित किया है। इसके अलावा 566 परीक्षा केंद्रो को अतिसंवेदनशील घोषित किया गया है। इस तरह देखा जाए तो यूपी सरकार ने इस बार परीक्षाओं में नकल को पूरी तरह से रोकने का इंतजाम कर लिया है।

https://duta.in/mobile-pe-news-iframe.php
loading...

About Komal Sharma

कोमल शर्मा अपने नाम की ही तरह स्वभाव से भी सरल हैं। उनकी टीम में उन्हें सॉफ्ट के नाम से जाना जाता है। कोमल ने पत्रकारिता का मास्टर कोर्स किया है। उन्होंने कई प्रतिष्ठित कंपनियों में अपनी सेवाएं दी हैं। अब इंडिया की न्यूज में आकर उन्हें संतोष महसूस होता है। कोमल को एक्शन—कॉमेडी और रोमांटिक मूवीज पसंद हैं। हैडफोन लगाकर गाना सुनना उनकी एक बड़ी कमजोरी है।

Check Also

up board result

यूपी बोर्ड की परीक्षाएं हुई आरम्भ, नकल रोकने के ये है इंतजाम

यूपी बोर्ड की परीक्षाएं हमेशा से ही चर्चा का विषय बनी रहती है। अक्सर इस …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *